मन्त्र

देवी मन्त्र

हनुमान मंत्र

या देवी सर्वभूतेषु माँ रुपेण संस्थिता

या देवी सर्वभूतेषु शक्ती रुपेण संस्थिता

या देवी सर्वभूतेषु बुद्धि रुपेण संस्थिता

या देवी सर्वभूतेषु लक्ष्मी रुपेण संस्थिता

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः
मनोजवं मारुततुल्यवेगम्

जितेन्दि्रयं बुद्धिमतां वरिष्थम्

वातात्मजं वानरयूथमुख्यं

श्री रामदूमं शरण प्रपद्ये

श्री लक्ष्मी मंत्र

सूर्य मंत्र

विष्णुप्रिये नमस्तुभ्यं जगद्धिते

अर्तिहंत्रि नमस्तुभ्यं समृद्धि कुरु में सदा
आ कृष्णेन् रजसा वर्तमानो निवेशयत्र अमतं मर्त्य च

हिरणययेन सविता रथेना देवो याति भुवनानि पश्यन

महामृत्युंजय मंत्र

गायत्री मंत्र

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम.

उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्.
ओ३म् भूर्भुव: स्व:

तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गोदेवस्य धीमहि

धियो यो न: प्रचोदयात्

काली मंत्र

शनि महामंत्र

ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी

दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु‍ते।
ऊँ नीलांजन समाभासं रवि पुत्रं यमाग्रजम्।

छाया मार्तण्ड सम्भूतं तम् नमामि शनैश्चरम्

श्री नवदुर्गा रक्षामंत्र

ॐ शैलपुत्री मैया रक्षा करो

ॐ जगजननि देवी रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ ब्रह्मचारिणी मैया रक्षा करो

ॐ भवतारिणी देवी रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ चंद्रघणटा चंडी रक्षा करो

ॐ भयहारिणी मैया रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ कुषमाणडा तुम ही रक्षा करो

ॐ शक्तिरूपा मैया रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ स्कन्दमाता माता मैया रक्षा करो

ॐ जगदम्बा जननि रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ कात्यायिनी मैया रक्षा करो

ॐ पापनाशिनी अंबे रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ कालरात्रि काली रक्षा करो

ॐ सुखदाती मैया रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ महागौरी मैया रक्षा करो

ॐ भक्तिदाती रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः

ॐ सिद्धिरात्रि मैया रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा देवी रक्षा करो

ॐ नव दुर्गा नमः

ॐ जगजननी नमः